Search
Close this search box.

Download App from

Follow us on

‘राजस्थान मर्दों का प्रदेश है’ बड़ी बेशर्मी से हंस दिए महिला अपराध के सवाल पर गहलोत हुए महंगाई राहत कार्यक्रम पर आत्म-मुग्ध, भाजपा पछाड़ देने को तैयार

‘राजस्थान मर्दों का प्रदेश है’ बड़ी बेशर्मी से हंस दिए महिला अपराध के सवाल पर

गहलोत हुए महंगाई राहत कार्यक्रम पर आत्म-मुग्ध, भाजपा पछाड़ देने को तैयार

जयपुर। आगामी विधानसभा चुनावों के मद्दे-नजर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ‘महंगाई राहत‘ कार्यक्रमों से आत्ममुग्ध हैं और लगभग सभी टीवी चैनलों और समाचार पत्रों में महंगे और बड़-बड़े विज्ञापन देकर अपने मुंह मियां मिठु बनने में जुटे हुए हैं। इधर भारतीय जनता पार्टी अंदरखाने अपनी तैयारियों में जोर-शोर से लगी हुई है। कार्यकर्ताओं को मजबूती से एकजुट करने एवं चुनाव के लिए नए-नए दंाव आजमाने के लिए तत्पर भाजपा ने समूचे राजस्थान में ‘नहीं सहेगा राजस्थान- मुहिम शुरू की है, जिसके तहत 1 अगस्त को ‘जयपुर चलो’ का बहुत बड़ा प्रदर्शन होने जा रहा है। कोटा में भाजपा ने यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल के लिए तैयार रिपोर्ट कार्ड में उन्हें महिला दुष्कर्म पर प्रदेश को मर्दों का प्रदेश बताने वाले कोटेशन को उल्लेखित किया गया है।

घर‘घर जा रहे हैं भाजपाई

भाजपा की तरह ही हालांकि कांग्रेस जमकर सियासत में जुटी है और भाजपा पर हमलावर हो रही है, लेकिन कांग्रेस के सता में होने से उनके पास भाजपा के खिलाफ कोई विशेष आरोप नहीं बन पा रहा है, लेकिन सताधारी के खिलाफ भाजपा के पास तो अनगिन आरोप हैं और समय-समय पर उनकी झड़ी लगाने से भी नहं चूका जा रहा है। भाजपा घर-घर सम्पर्क करके भी कांग्रेस सरकार की कमियां उजागर कर रही है। कोटा में बीजेपी ने स्कूल में छात्रों के लिए बनने वाले रिपोर्ट कार्ड की तरह ही कांग्रेस का रिपोर्ट कार्ड भी तैयार करके लोगों को दिया है। बीजेपी कार्यकर्ता घर-घर तक उसे पहुंचा कर कांग्रेस की विफलताओं को बताने की कोशिश कर रहे हैं। बीजेपी का कहना है कि इसके जरिए उन्होंने कांग्रेस की नाकामी, भ्रष्टाचार और जनविरोधी नीतियों को उजागर किया है। बीजेपी का अनूठा अभियान लोगों के बीच काफी चर्चा का विषय बना हुआ है।

नहीं सहेगा राजस्थान

वैसे तो भाजपा का ‘नहीं सहेगा राजस्ािान’ अभियान प्रदेश भर में चर्चा का विषय है। इसमें ‘नहीं सहेगा राजस्थान’ के तहत भाजपा ने विभिन्न महत्वपूर्ण और जनता की रग को दबाने वाले नारों की इजाद भी की है। इसके तहत ‘कर्ज में किसान’, भ्रष्टाचार खुलेआम’, ‘अपराध बेलगाम’, पेपरलीक से युवा परेशान’, बहन-बेटियों का अपमान’ आदि सभी नारों के अंत में ‘नहीं सहेगा राजस्थान’ किया गया है। इनके तहत राज्य की कांग्रेस सरकार के विरूद्ध एक रिपोर्ट कार्ड भी लाॅन्च किया गया है, इसे फेल कार्ड नाम दिया गया है। इसी तरह क्षेत्रीय स्तर पर भी क्षेत्रीय नेताओं ने अपने स्तर पर अनेक रिपोर्ट कार्ड कांग्रेस के सताधारी नेताओं के तैयार किए हैं और उनके करतबों की पोल खोल कर रख दी है।

‘राजस्थान मर्दों का प्रदेश है’

कोटा में गहलोत सरकार के यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल का रिपोर्ट कार्ड ऐसे बनाया गया है, जो अनूठी पहल के रूप में चर्चा का विषय बना हुआ है। उनके रिपोर्ट कार्ड में मंत्री धारीवाल को फेल बताया है। कार्यकर्ता लोगों को बता रहे हैं कि कांग्रेस राज में किसान, मजदूर, युवा, महिला और दलित कोई भी सुरक्षित नहीं है। इस रिपोर्ट कार्ड में जो कॉलम बनाए हैं। वे काफी चर्चा का विषय है। रिपोर्ट कार्ड में सबसे ऊपर मंत्री शांति धारीवाल का नाम लिखा है। इसके बाद उनके उस विचार का उल्लेख है, जिसमें उन्होंने कहा था कि ‘राजस्थान मर्दों का प्रदेश’ है। दूसरा कॉलम ‘राजस्थान की हकीकत’ में लिखा है कि राजस्थान में हर दिन 17 बेटियों से दुष्कर्म हो रहे हैं। तीसरे कॉलम में महिला अपराध के सवाल पर धारीवाल के रिपोर्ट कार्ड में लिखा है कि ‘बेशर्मी से हंस दिए’। इसके अलावा रिपोर्ट कार्ड के एक गोले में लिखा है कि ‘बहन बेटियों से दुष्कर्म को कांग्रेसी मानते हैं मर्दों की शान, वाह रे महिला विरोधी कांग्रेस’। बीजेपी का यह अनूठा रिपोर्ट कार्ड सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। लोगों को बताया जा रहा है कि राजस्थान की बिगड़ी कानून व्यवस्था ने आमजन का जीना बेहाल कर दिया है। महिला अत्याचार और अपराध में राजस्थान प्रथम स्थान पर पहुंच गया है। इसलिए अब जनता कांग्रेस सरकार को हटाने की ठान चुकी है।

kalamkala
Author: kalamkala

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

error: Content is protected !!

We use cookies to give you the best experience. Our Policy