Search
Close this search box.

Download App from

Follow us on

लाडनूं वासी अपनी सौहार्द की परम्परा को कायम रखें- एसडीएम सुप्रिया, लाडनूं में सीएलजी की बैठक में सफाई, बिजली, पानी व कानून व्यवस्था पर विचार, पुलिस व रैपिड एक्शन फोर्स ने किया लाडनूं में फ़्लैग मार्च

लाडनूं वासी अपनी सौहार्द की परम्परा को कायम रखें- एसडीएम सुप्रिया,

लाडनूं में सीएलजी की बैठक में सफाई, बिजली, पानी व कानून व्यवस्था पर विचार,

पुलिस व रैपिड एक्शन फोर्स ने किया लाडनूं में फ़्लैग मार्च

जगदीश यायावर। लाडनूं (kalamkala.in)। उपखंड अधिकारी सुप्रिया कालेर ने कहा है कि धार्मिक सौहार्द इस क्षेत्र की परम्परा रही है, इसे हमें कायम रखना है। राम मंदिर की प्राण-प्रतिष्ठा पर पूरे देश में खुशी का माहौल है और सभी जगहों पर 22 जनवरी को उत्सव मनाया जाएगा। लाडनूं में हमें पूर्ण सतर्कता से आपसी भाईचारे को बनाए रखते हुए मिलजुल कर इसे मनाना है। वे यहां पुलिस थाने में आयोजित सीएलजी सदस्यों की बैठक को सम्बोधित कर रही थी। बैठक में पुलिस उप अधीक्षक राजेन्द्र बुरड़क ने 21 जनवरी को लाडनूं में निकाले जाने वाले शोभायात्रा जुलूस के मार्ग और व्यवस्थाओं की पूरी जानकारी ली और कहा कि किसी भी प्रकार की आपत्तिजनक भाषण, नारेबाजी और गीतों का प्रयोग नहीं होना चाहिए और डीजे प्रतिबंधित है, इसलिए उसको जुलूस में शामिल नहीं किया जाए। तहसीलदार डा. सुरेन्द्र भास्कर ने पूरे शहर की सफाई व्यवस्था की चर्चा की और नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारी तौफीक़ अहमद को जुलूस के रास्ते में सफाई व्यवस्था बनाए रखने, सड़कों व रास्तों के खड्डे समतल करने और मंदिरों के आस पास के पूरे क्षेत्र में विशेष सफाई व्यवस्था की जरूरत बताई। उन्होंने रास्तों में जलदाय विभाग की पाइपलाइन के लीकेज के कारण होने वाले पानी के भराव व कीचड़ को दूर करने के लिए सहायक अभियंता गोविन्द प्रसाद बेरा को लीकेज दुरुस्त करवाने के लिए पाबंद किया। थानाधिकारी मुकेश कुमार वर्मा ने कानून व्यवस्था बनाए रखने में सभी सीएलजी सदस्यों से अपील की और नियमों व मर्यादाओं का पालन करते हुए आपसी सौहार्द को कायम रखने पर बल दिया। उन्होंने दो दिनों की पूर्ण व्यवस्थाओं के बारे में बताया और स्वयंसेवी सहयोग की आवश्यकता बताई। पालिकाध्यक्ष रावत खां ने नगरपालिका के ईओ, जलदाय विभाग के अधिकारियों एवं विद्युत निगम के अभियंताओं से व्यवस्थाएं बनाए रख कर इस धार्मिक व सांस्कृतिक आयोजन में पूर्ण सहयोग करने के लिए कहा।

ये सब रहे मौजूद

बैठक में सीएलजी सदस्यों ने सफाई, लीकेज, झूलते तारों, टूटी-फूटी सड़कों, जुलूस की व्यवस्थाओं आदि पर अपने विचार व्यक्त किए। बैठक में नरपत सिंह गौड़, सुमित्रा आर्य, नरेन्द्र भोजक, शहर काजी मो. मदनी, अयूब खां, शिम्भुसिंह जैतमाल, जेपी टाक, सुशील कुमार पीपलवा, मुमताज अली चौपदार, दानाराम जांगिड़, नारायण लाल शर्मा, मोहनसिंह चौहान, रूबल जैन, बलजी बिसायती, विकास सोनी आदि मौजूद रहे। बैठक में पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा नगर पालिका, विद्युत निगम व जलदाय विभाग के अधिकारी भी मौजूद रहे।

पुलिस एवं रैपिड एक्शन फोर्स ने किया फ्लैग मार्च

बैठक के बाद पुलिस ने रैपिड एक्शन फोर्स के साथ मिलकर कर क्षेत्र में फ्लैग मार्च किया। सरकार केन्द्रीय गृह मंत्रालय के आदेशानुसार लालवास, जयपुर (राजस्थान) में तैनात रेपिड एक्शन फोर्स (R.A.F) की 83 बटालियन के कमाण्डेंट प्रवीण कुमार सिंह के मार्गदर्शन में सरवर खां (उप. कमा. एवं उगमा राम (उप कमा.) के नेतृत्व में सी/83 बटालियन की एक प्लाटून 17 जनवरी नागौर जिला क्षेत्र के सभी पुलिस थानों का भम्रण एवं परिचित अभ्यास के लिए आई, जिसने वृताधिकारी राजेन्द्र, लाडनूं पुलिस थाना प्रभारी मुकेश कुमार वर्मा एवं लाडनूं थाने के अन्य पुलिस कार्मिकों के साथ मिलकर संवेदनशील एवं अति संवेदनशील क्षेत्रों में परिचित अभ्यास किया तथा स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर मुख्य बाजारों एवं साम्प्रदायिक रूप से संवेदनशील क्षेत्रों में फ्लेग मार्च किया, ताकि भविष्य में जरूरत पड़ने पर उस स्थान, क्षेत्र में तुरन्त पहुंचकर शीघ्र तथा प्रभावी कार्यवाही की जा सके। परिचित अभ्यास के दौरान रैपिड एक्शन फोर्स द्वारा किये गये परिचय अभ्यास की जानकारी देते हुए उप कमांडेंट सरवर खां एवं उगमा राम (83 बटालियन) ने बताया कि परिचय अभ्यास के दौरान इलाके की जनसंख्या, सामुदायिक दृष्टि से संवेदनशील जगहों तथा विशिष्ट व्यक्तियों की सुरक्षा तथा बलवाइयों की सूची तैयार की जायेगी, ताकि भविष्य में किसी प्रकार की कोई साम्प्रदायिक तनाव एवं दंगा की स्थिति होने या प्राकृतिक आपदा होने पर कारगर ढंग से उस पर नियंत्रण एवं कार्यवाही की जा सके। बल के सदस्यों द्वारा यहां के राजनीतिक दलों, समाज सेवी संगठनों की भी जानकारी प्राप्त की जाएगी। सी/83 बटा. द्रुत कार्य बल द्वारा सभी क्षेत्रों का सांकेतिक चित्र भी बनाया जाएगा। इस मानचित्र का उद्देश्य अप्रिय स्थिति उत्पन्न होने पर नियंत्रण के लिए नियुक्त स्थल पर तत्काल पहुंचने में सुविधा होती है। द्रुत कार्य बल द्वारा किये जाने वाला यह एक अभ्यास है, जो कि नियमित अन्तराल के बाद किया जाता है।परिचय अभ्यास में निरीक्षक जितेन्द्र सिंह यादव, प्रमोद कुमार यादव, निरीक्षक ओमा राम निरी. (म.) मिसला रानी एवं निरी. रामचरण चौधरी के अतिरिक्त बल के अन्य अधीनस्थ अधिकारीगण एवं बल के अन्य रैंक कार्मिकों ने भाग लिया।

kalamkala
Author: kalamkala

Share this post:

खबरें और भी हैं...

प्रदेश का सबसे शोषित वर्ग है पत्रकार, सरकार की पूरी उपेक्षा का है शिकार, अधिस्वीकरण पर पैसे वालों का अधिकार, सब सुविधाओं से वंचित हैं सात हजार पत्रकार, आईएफडब्ल्यूजे के प्रदेशाध्यक्ष उपेन्द्र सिंह ने बयां की हकीकत 

Read More »

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

error: Content is protected !!

We use cookies to give you the best experience. Our Policy