Search
Close this search box.

Download App from

Follow us on

लाडनूं समेत पूरे जिले में पेयजल सप्लाई दुरुस्ती के लिए प्रशासन ने कसी कमर, उठाए अनेक सक्षम कदम – विस्तृत रिपोर्ट

लाडनूं समेत पूरे जिले में पेयजल सप्लाई दुरुस्ती के लिए प्रशासन ने कसी कमर, उठाए अनेक सक्षम कदम

जगदीश यायावर। लाडनूं (kalamkala.in)। भीषण गर्मी में पेयजल उपलब्धता एवं सुचारू व्यवस्था के लिए जलदाय विभाग ने अनेक सक्षम कदम उठाए हैं। इनके तहत लाडनूं शहर व ग्रामीण क्षेत्र के लिए भी महत्वपूर्ण निर्णय लागू किए गए हैं। लाडनूं को 96 घंटों के अंतराल से पानी की सप्लाई की जा रही है। लाडनूं शहर को 15 टैंकर ट्रिप प्रतिदिन दिए जा रहे हैं और ग्रामीण क्षेत्र को भी पर्याप्त टैंकर ट्रिप दिए जा रहे हैं। सभी टैंकरों पर निगरानी के लिए जीपीएस लगाए गए हैं। जिला कलेक्टर द्वारा स्वीकृत 10 लाख रु. खर्च करके लाडनूं क्षेत्र के नलकूपों में लगी पुरानी मशीनरी, केबल, पेनल, पाइप आदि बदल कर कार्य पूर्ण किया गया है। समर कन्टीजेन्सी के तहत लाडनूं विधानसभा क्षेत्र में 6 नलकूप स्वीकृत किए गए हैं। लाडनूं विधानसभा क्षेत्र के लिए 28 हैण्ड पम्प भी स्वीकृत हुए हैं, जिनके निर्माण का कार्य प्रगति पर हैं।

सभी जलदाय अधिकारी अलर्ट मोड में, पेयजल व्यवस्था हर हाल सुचारू रखी जाएगी,

कलेक्टर सहित सभी अधिकारियों द्वारा निरीक्षण जारी, कंट्रोल रूम स्थापित

डीडवाना (kalamkala.in)। डीडवाना-कुचामन जिले के 787 ग्रामों तथा 7 शहरी क्षेत्रों में ग्रीष्म ऋतु को देखते हुये, आने वाली पेयजल समस्याओं का निदान तत्परता से करने के निर्देश प्रदान किए गए है। जन स्वा. अभि. विभाग के अधीक्षण अभियन्ता जे.के. चारण ने वृत के सभी अधिशाषी अभियन्ताओं से लेकर कनिष्ठ अभियन्ताओं को इस गर्मी के मौसम में पूर्णतया अलर्ट मोड पर रहने हेतु कहा है। चारण ने अवगत कराया कि खराब होने वाले नलकूपों तथा हैण्ड पम्पों को त्वरित गति से ठीक किया जावे तथा इनकी साप्ताहिक प्रगति रिपोर्ट जिला मुख्यालय को भेजें। जल योजनाओं के संचालन एवं संधारण के कार्य कर रहे ठेकेदारों को अपना कार्य सुचारू करने हेतु लगातार अधिकारियों द्वारा पर्यवेक्षण किया जा रहा है। शहरी क्षेत्रों में मकराना, लाडनूं तथा डीडवाना 96 घण्टे के अन्तराल से तथा कुचामन, परबतसर व नावां में 48 घण्टे के अन्तराल से जलापूर्ति की जा रही है।

ये हैं जन हितार्थ आवश्यक कदम

अधीक्षण अभियंता जेके चारण के निर्देशानुसार पूरे वृत क्षेत्र में जलदाय विभाग द्वारा दी जा रही सेवाएं इस प्रकार से संचालित की जा रही हैं।

(1) टैंकरो से पेयजल परिवहन-
भीषण गर्मी में ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में पेयजल समस्याग्रस्त क्षेत्रों में टैकरो के जरिये पेयजल आपूर्ति की जा रही है। वर्तमान में डीडवाना व लाडनूं शहर में प्रतिदिन 15 टैंकर ट्रिप तथा कुचामन शहर में 25 ट्रिप प्रतिदिन पहुंचाये जा रहे है। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में 74 ग्रामों व 122 ढाणियों में प्रतिदिन 196 टैंकर ट्रिप के जरिये पेयजल उपलब्ध कराया जा रहा है। टैकरों का पर्यवेक्षण करने हेतु इन पर जी.पी.एस.भी लगाये गये है।

(2) 50 लाख जिला कलक्टर के माध्यम से स्वीकृत-
जिले में पेयजल व्यवस्था के सृदृढीकरण हेतु 50 लाख की राशि जिला कलक्टर की अभिशंषा पर स्वीकृत की गई थी, जिसके तहत प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 10-10 लाख रु. खर्च कर, नलकूपों में लगी पुरानी मशीनरी, केबल, पेनल, पाइप आदि बदल कर कार्य पूर्ण करवा लिया गया है।

(3) समर कन्टीजेन्सी-
समर कन्टीजेन्सी के तहत लाडनूं विधानसभा क्षेत्र में 6 नलकूप, डीडवाना विधानसभा के लिए 8 नलकूप, मकराना में 5, परबतसर में 9 तथा नावां में 9 नलकूप स्वीकृत किये गये है, जिनके निर्माण का कार्य प्रगति पर है। इसके अलावा इस वर्ष जनवरी से अब तक 25 नये नलकूप बनाकर चालू कर दिये है, इनका भी उपयोग इस गर्मियों में हो रहा है। लाडनूं विधानसभा क्षेत्र के लिए 28 हैण्ड पम्प भी स्वीकृत हुए हैं, जिनके निर्माण का कार्य प्रगति पर है ।

(4) सधन निरीक्षण-
ग्रीष्म ऋतु में सम्पूर्ण जलापूर्ति तंत्र के निरीक्षण के लिए कनिष्ठ अभियन्ता, सहायक अभियन्ता तथा अधिशाषी अभियन्ता लगातार फील्ड में जा रहे हैं। इसके अलावा जिला प्रशासन भी लगातार निरीक्षण कर पेयजल व्यवस्था के बारे में फीड बैंक ले रहा है। स्वयं जिला कलक्टर बालमुकुन्द असावा ने लाडनूं, डीडवाना तथा कुचामन मे जलापूर्ति व्यवस्था का निरीक्षण किया है तथा उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार तथा विकास अधिकारी भी फील्ड में जा रहे है।

(5) जिला स्तर पर कन्ट्रोल रूम की स्थापना-
जिला मुख्यालय डीडवाना पर जलदाय विभाग ने जन साधारण की शिकायतों के इन्द्राज एवं निवारण हेतु एक कन्ट्रोल रूम खोला है, जिसके नम्बर 01580-220045 है। इस कन्ट्रोल रूम में प्रातः 6.00 बजे से रात्रि 10.00 बजे तक पेयजल शिकायतें दर्ज की जाती हैं।

(6) जिला स्तर पर पेयजल समाधान वाट्सएप ग्रुप-

जिले में एक पेयजल समाधान वाट्सएप ग्रुप का गठन कर इसमें जलदाय विभाग के अधिकारियों तथा जिले के जनप्रतिनिधियों को जोड़ा गया। इस ग्रुप के परिणाम काफी सकारात्मक रहे हैं।

(7) जलदाय अधिकारियों की छुट्टियां रद्द की-
गर्मियों को देखते हुए जलदाय विभाग के सभी अधिकारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई है तथा बिना अनुमति मुख्यालय नहीं छोड़ने के निर्देयश जारी किये है। इसके अलावा विभाग द्वारा अवैध कनेक्शन हटाने, बूस्टर पकड़ने एवं लीकेज ठीक करने का कार्य भी अभियान के रूप में किया जा रहा है।

kalamkala
Author: kalamkala

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

error: Content is protected !!

We use cookies to give you the best experience. Our Policy