Search
Close this search box.

Download App from

Follow us on

दाढी रखकर शादी करने पर किया समाज से बहिष्कृत, पाली में विश्वकर्मा सुथार समाज ने सामाजिक परम्परा व नीति के उल्लंघन का आरोपी ठहरा कर सम्पर्क तोड़े

दाढी रखकर शादी करने पर किया समाज से बहिष्कृत,

पाली में विश्वकर्मा सुथार समाज ने सामाजिक परम्परा व नीति के उल्लंघन का आरोपी ठहरा कर सम्पर्क तोड़े

पाली। एक नवदंपती को समाज से इसलिए बेदखल कर दिया गया है, कि शादी के लिए दूल्हा क्लीन सेव नहीं रह कर दाढ़ी बढाए हुए शादी करने पहुंचा था। उसने दूल्हा बन कर सफेद साफा पहन फेरों में बैठ कर भी नियमों का उल्लंघन किया, जबकि पंचों द्वारा निर्धारित रंग का ही साफा पहनने की परम्परा रही थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मैकेनिकल इंजीनियर अमृत सुथार ने अपनी शादी में दाढ़ी रखी और सफेद साफा पहना था। इससे नाराज समाज और पंचों ने मिल कर उसके पूरे परिवार को ही समाज से बहिष्कृत कर दिया। चांचौड़ी गांव निवासी अमृत की 22 अप्रेल को बाली निवासी पूजा के साथ धूमधाम से शादी हुई थी। शादी में समाज के एक हजार से अधिक लोग शामिल हुए। शादी के 15 दिन तक सब कुछ ठीक चला। लेकिन, 5 मई को अमृत सुथार को पता चला कि उसे और उसके परिवार को समाज से बहिष्कृत कर दिया गया है। अमृत ने समाज के लोगों से पूछा, कि न तो मैंने लव मैरिज की, न ही समाज की एक गोत्र में शादी की, फिर भी मुझे समाज से बहिष्कृत क्यों किया गया?

सुथार समाज ने दूल्हे और उसके परिवार को बहिष्कृत करने के साथ ही एक पत्र भी जारी किया, जिसमें दूल्हे के सामने शर्त रखी थी कि वह 2 महीने के अंदर पंचों की बैठक बुलाए और पंचों से माफी मांगे। इसके बाद पंच जो भी आदेश दे, उन्हें मान ले। मगर दूल्हे अमृत ने पंचों की शर्तों को मानने से इंकार कर दिया।

इस पर पंचों ने उसके ससुराल से लेकर समाज के लोगों से उनके साथ संबंध न रखने का दबाव बनाया। इसके बाद लड़के ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। वहीं, दुल्हन ने पुलिस से न्याय की गुहार लगाई। पुलिस को दिए शिकायती पत्र में उसने कहा, श्रीविश्वकर्मा वंश सुथार समाज ने 19 जून की रात पंचायत बुलाई और मौखिक रूप से घोषणा की कि उसके परिवार का समाज से बहिष्कार किया गया है। सुथार समाज ने अपना फैसला उन पर थोप रखा है और मानसिक रूप से प्रताड़ित कर मुझे और मेरे परिवार को बदनाम किया जा रहा है।

अमृत ने बताया कि वह खुद मैकेनिकल इंजीनियर है। उसकी पत्नी पूजा सोलंकी आईटी से बीएससी करने के बाद पुणे में एलएनटी कंपनी के आईटी विभाग में वेब डेवलपर की जॉब करती है। अमृत खुद भी पुणे में ही जॉब करता है।

इस मामले में समाज के अध्यक्ष हीरालाल सुथार ने सफाई में कहा कि अमृत सुथार ने जो शिकायत की है, वह झूठी है। वह अमृत और उसके परिवार वालों को नहीं जानता है। इधर, बाली थाना प्रभारी देवेंद्र सिंह ने बताया कि चांचौड़ी निवासी एक युवक ने ऑनलाइन शिकायत दी है, जिसमें सुथार समाज के अध्यक्ष हरिलाल समेत 30-35 लोगों पर परेशान करने के आरोप लगाए हैं। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

kalamkala
Author: kalamkala

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

error: Content is protected !!

We use cookies to give you the best experience. Our Policy