Search
Close this search box.

Download App from

Follow us on

निर्धारित मार्ग को छोड़ कर सड़क मार्ग बनाने को लेकर एडीएम ने एक्सईएन को दिए कार्रवाई के आदेश, ओड़ींट से सुनारी मारोठिया सीमा तक बनने वाली सड़क के रास्ते को मोड़ा, मनमर्जी से पुरानी सड़क को तोड़ कर नया रास्ता निकाला, लोगों को करवाए कटानी रास्ते पर कब्जे

निर्धारित मार्ग को छोड़ कर सड़क मार्ग बनाने को लेकर एडीएम ने एक्सईएन को दिए कार्रवाई के आदेश,

ओड़ींट से सुनारी मारोठिया सीमा तक बनने वाली सड़क के रास्ते को मोड़ा, मनमर्जी से पुरानी सड़क को तोड़ कर नया रास्ता निकाला, लोगों को करवाए कटानी रास्ते पर कब्जे

जगदीश यायावर। लाडनूं (kalamkala.in)। तहसील के ग्राम ओड़ींट निवासी रामचन्द्र बीरड़ा ने जिला कलेक्टर को पत्र देकर लाडनूं के ग्राम ओडींट से सुनारी मारोठिया बाॅर्डर तक मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत निर्माणाधीन डामरीकृत सड़क को स्वीकृत प्लान से हटकर बनाने एवं उसके निर्माण में अनियमितताएं बरती जाने की जांच की मांग करते हुए दोषी अधिकारी, कर्मचारी व फर्म के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की मांग की, जिस पर अतिरिक्त जिला कलेक्टर श्योराम वर्मा ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता को निर्देशित किया है कि वे इस प्रकरण का अवलोकन करते हुए तहसीलदार लाडनूं से सम्पर्क करके नियमानुसार अग्रिम कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए 7 दिवस में अवगत करवाएं।  शिकायतकर्ता बीरड़ा ने इस सम्बंध में उप मुख्समंत्री दिया कुमारी को भी पत्र लिखा है।

ढाणियों के रहवासियों को होगी परेशानी, सड़क में जानबूझ कर दिए जा रहे हैं 15-16 घुमाव

शिकायतकर्ता बीरड़ा ने अपनी शिकायत में बताया था कि सार्वजनिक निर्माण विभाग खण्ड डीडवाना के अधीनस्थ लाडनूं के सहायक अभियन्ता द्वारा मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत ग्राम ओडींट से सुनारी-मारोठिया बाॅर्डर तक करवाए जा रहे 7 कि.मी. डामरीकृत सड़क निर्माण के कार्य को स्वीकृत किए गए तकमीने के अनुसार एवं प्रस्तावित मार्ग से हट कर राजनैतिक फायदे के लिये अवैध रूप से वहां से अन्य मार्ग पर इसका निर्माण करवाया जा रहा है। यह डामरीकृत सड़क निर्माण निर्धारित मार्ग पड़ौसी ग्राम मारोठिया बाॅर्डर की ओर जाने वाले मार्ग पर नहीं होकर ग्राम ओड़ींट से सुनारी सीधे मार्ग पर किया जा रहा है। इस कारण बड़ी संख्या में लोग, जो ढाणियों आदि में निवास करते हैं, वे सभी इस सुविधा से वंचित रहेंगे। इस गलत रास्ते पर निर्माणाधीन सड़क की दूरी भी कम नहीं है। प्रस्तावित सड़क मार्ग, राजस्व रिकाॅर्ड में दर्ज कटाणी मार्ग है एवं पूर्व में निर्मित ग्रेवल सड़क है, पर डामरीकरण का कार्य न किया जाकर राजनैतिक फायदे व निजी स्वार्थ वश निजी भूमियों में डामरीकरण करवा कर कराया जा रहा है। इस सड़क निर्माण में मात्र 6 कि.मी. की दूरी में ही करीब 15-16 घुमाव व मोड़ दिए जाकर सड़क बनवाई जा रही है, जो कि दुर्घटनाओं का कारण भी बनेंगे।

सड़क बनने के लिए निर्धारित खसरों को छोड़ अन्य पर निर्माण

शिकायत के अनुसार ग्राम ओड़ींट से खसरा नम्बर 357, 65, 355, 400, 402, 412, 416, 418, 422, 424 से होते हुए चलने वाला रास्ता ग्रेवल सड़क ओडींट से मारोठिया बाॅर्डर का रास्ता है, जो लगभग 7 कि.मी. की दूरी पूरी करता है, जबकि विभागीय अधिकारीयों ने मिलीभगत कर राजनैतिक फायदे के लिये इस स्वीकृत सड़क की बजाय ग्राम ओड़ींट के  खसरा नम्बर 414, 454, 452, 447, 480, 489, 492, 493, 494, 495, 431 से होते हुए सड़क का निर्माण कर रहे हैं, जो ओडींट से सुनारी मारोठिया बाॅर्डर का रास्ता नहीं होकर ओड़ींट से सुनारी का रास्ता है। ग्राम ओड़ींट में जिस स्थान पर सड़क निर्माण का बोर्ड लगा रखा है, वह खसरा नम्बर 463, 464 पर लगा हुआ है, जहां से बायीं तरफ जाने वाला रास्ता ओडींट से सुनारी वाया मारेाठिया बाॅर्डर दूरी 7 कि.मी. है तथा दाहिनी तरफ जाने वाला रास्ता ओडींट से सुनारी मार्ग है, जो करीब 5 कि.मी. की लम्बाई का है। यह सारा अवैध कार्य करने वाली पीडब्ल्यूडी काॅन्ट्रेक्टर फर्म मैसर्स अकरम जावा बास लाडनूं को ब्लेक-लिस्टेड करवाया जाये एवं दुरूपयोग की गई राजकीय राषि की वसली की जाए।

कटानी रास्ते पर बनी ग्रेवल सड़क के निशान मिटा कर करवाए लोगों को कब्जे

इस सड़क निर्माण की कार्यकारी एजेन्सी व फर्म ने मिल कर अपने निजी लाभ के लिए अनेक लोगों को प्रस्तावित सड़क के राजस्व रेकर्ड में दर्ज कटाणी रास्ते पर अवैद्य कब्जे तक करवा दिये हैं। इन्होंने यहां पूर्व में बनी हुई ग्रेवल सड़क के निशानात भी मिटाते हुए जबरन नया टेढा-मेढा रास्ता बनाने की कोशिश की है। इसलिए इस सम्पूर्ण सड़क के मामले का मौका मुआयना करवाया जाकर भौतिक स्थिति का सत्यापन करवाया जावे तथा मौके पर निर्धारित कटाणी रास्ते एवं पूर्व में वहां बनी हुई ग्रेवल सड़क पर ही डामरीकृत सड़क का निर्माण करवाया जाये। साथ ही अवैद्य रूप से निजी फायदे के लिए अब तक रेवेन्यू रिकाॅर्ड व निर्धारति मार्ग से हट कर बनाई गई सड़क के सारे खर्च को उन दोषी अधिकारियों, व ठेकेदार फर्म से वूसली करवाई जाए। सड़क के गतल निर्माण को रोका जाते हुए उसका निर्माण निर्धारित मार्ग पर ही करवाया जाए।
kalamkala
Author: kalamkala

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

error: Content is protected !!

We use cookies to give you the best experience. Our Policy