Search
Close this search box.

Download App from

Follow us on

सरकारी स्कूल के बाबू ने लगाया सरकार को लाखों का चूना, विभागीय शिकायत के साथ पुलिस में मामला दर्ज, कसूम्बी के हेडमास्टर ने दी थी जसवंतगढ़ पुलिस थाने में रिपोर्ट, अब बदंरबांट से मामला दबाए जाने के आसार

सरकारी स्कूल के बाबू ने लगाया सरकार को लाखों का चूना, विभागीय शिकायत के साथ पुलिस में मामला दर्ज,

कसूम्बी के हेडमास्टर ने दी थी जसवंतगढ़ पुलिस थाने में रिपोर्ट, अब बदंरबांट से मामला दबाए जाने के आसार

जगदीश यायावर। लाडनूं (kalamkala.in)। तहसील के ग्राम कसूम्बी में सरकारी विद्यालय के बाबू द्वारा छह स्कूलों के लाखों रुपयों को अवैध तरीके पीएनबी, पेटीएम पेमेंट बैंक और निजी फर्म के माध्यम से ओनलाइन भुगतान उठा कर सरकारी कोष से लगभग 30 से 46 लाख रुपयों का गबन किया जाने का मामला सामने आया है। कसूम्बी के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य श्याम मुरारी रांकावत ने जसवंतगढ़ पुलिस थाना में कनिष्ठ सहायक के खिलाफ लाखों रुपयों का गबन किए जाने का यह मामला दर्ज करवाया गया है। लेकिन इस मामले को दबाए जाने के प्रयास भी प्रारम्भ हो चुके हैं। आरोपी प्रमोद कुमार को अनुकम्पा नियुक्ति पर नौकरी लगी थी और लालच के चलते उसने यह विशाल घोटाला किया। अब नौकरी का संकट देख कर उसके द्वारा अपने चहेतों के बल पर मामले को रफा-दफा किए जाने के लिए खासी कवायद शुरू कर रखी है। पुलिस की नजरों में आरोपी अभी तक फरार है। संभावना है कि शिक्षा विभाग और पुलिस की तरफ से कोई सख्त व पुख्ता कार्रवाई शीघ्र नहीं की जाने पर इस सम्बंध में रिकाॅर्ड में भारी हेराफेरी की जा सकती है और इसमें बंदरबांट होने के आसार नजर आने लगे हैं।

यह सब लिखा है रिपोर्ट में

प्रधानाचार्य द्वारा पुलिस को दी गई रिपोर्ट में बताया गया है कि राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय कसुम्बी में पदस्थापित कनिष्ठ सहायक प्रमोद कुमार द्वारा एसएनए भुगतान प्रणाली द्वारा विभाग के प्रधान की बिना स्वीकृति के विभिन्न मदों में बजट हेड से स्थानीय विद्यालय एवं अधीनस्थ छह विद्यालयों के फर्जी बिल बनाकर लाखों रुपयों का भुगतान गैर कानूनी तरीको से उठाकर राजकोष में गबन कारित करते हुए भुगतान उठा लिया गया है। इस कनिष्ठ सहायक के अवकाश पर चले जाने पर एसएनए पासवर्ड की आवश्यकता होने पर प्रधानाचार्य रांकावत ने एसएनए भुगतान के पासवर्ड को 6 फरवरी को रिसेट किया, तब मिलान करने पर पाया कि कनिष्ठ सहायक द्वारा बहुत सारे फर्जी बिल बनाकर पंजाब नेशनल बैंक के खाता संख्या 3545000102824615 (आईएफ एससी कोड- PUB0354500) और दूसरा खाता पेटीएम पेमेंट बैंक के खाता संख्या 919983481097 (आईएफएससी कोड- PYTM0123456) तथा बालाजी जनरल स्टोर (बैंक खाता धारक का नाम अन्य भी हो सकता है) के आईडीएफसी बैंक खाता संख्या 10130212718 (आईएफएससी कोड- IDFB0042223) के द्वारा लाखों रुपयों का भुगतान गैर कानूनी तरीके से तथा संस्था प्रधान की स्वीकृति के बिना आहरण कर लाखों रुपयों का राजकोष में गबन किया गया है। इसकी सूचना प्रधानाचार्य द्वारा शिक्षा विभाग के उच्चाधिकारियों को लिखित में भी दी गयी है। इसकी प्रति भी पुलिस रिपोर्ट के साथ संलग्न की गई है। पुलिस ने यह मामला अपराध धारा 420, 409 भादस के तहत दर्ज किया है। मामले की जांच थानाधिकारी अजय कुमार स्वयं कर रहे हैं।

इनका कहना है-

रिकाॅर्ड तलब करेंगे
एफआईआर दर्ज की जा चुकी है। गबन का मामला है, सम्बंधित सभी रिकॉर्ड तलब किया जाएगा। आरोपी प्रमोद कुमार द्वारा अपना फोन बंद रखा जा रहा। अभी जांच जारी है। जांच के बाद ही सामने आने वाले तथ्यों के बारे में कुछ कहा जा सकता है।
– अजय कुमार मीणा, थानाधिकारी, पुलिस थाना, जसवंतगढ़ (लाडनूं)।

गबन की जांच के लिए कमेटी बनाई
कसूम्बी के विद्यालय के बाबू द्वारा करीब 25 से 30 लाख के गबन की जानकारी मिली है। जिला शिक्षा अधिकारी के पास इसकी शिकायत हुई है। इस सम्बंध में तीन प्रिंसिपलों की जांच कमेटी गठित की गई है। गबन पाए जाने पर उसकी वसूली की जाएगी और नियमानुसार दंड प्रदान किया जाएगा। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ बताया जा सकेगा।
– रामचंद्र भाटी, सीबीईओ, शिक्षा विभाग, लाडनूं।

अब इस मामले में कुछ नहीं है
मैंने शिक्षा विभाग को और पुलिस को इस गबन के बारे में रिपोर्ट दी थी, लेकिन अब तो यह मामला सलट चुका है। इसमें अब कुछ नहीं बचा है।
– श्याम मुरारी रांकावत, प्रधानाचार्य, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, कसूम्बी (लाडनूं)।

kalamkala
Author: kalamkala

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

error: Content is protected !!

We use cookies to give you the best experience. Our Policy