Search
Close this search box.

Download App from

Follow us on

एक साल से सूखा पड़ा है जीएलआर, पानी के लिए तरसे लोग, पेयजल आपूर्ति बंद होने से पानी के लिए त्राहि-त्राहि मची

एक साल से सूखा पड़ा है जीएलआर, पानी के लिए तरसे लोग,

पेयजल आपूर्ति बंद होने से पानी के लिए त्राहि-त्राहि मची

कुचेरा (रिपोटर मेहबूब खोखर)। मेड़ता उपखण्ड के रेण ग्राम पंचायत के ऐचरों की ढ़ाणी पोलास विश्नोईयां में बने जीएलआर में पिछले करीब एक साल से पानी की सप्लाई नहीं होने के कारण ग्रामीणों को पेयजल की समस्या से जूझना पड़ रहा है। समाजसेवी रामनिवास ऐचरा(बिल्ला) ने बताया कि पिछले एक साल से पानी की सप्लाई बंद है जिसके कारण जीएलआर व खेळी सुखी पड़ी है जिसके चलते आवारा पशुओं को भी अपनी प्यास बुझाने के लिए भटकते नजर आ रहे हैं। पानी की सप्लाई नहीं होने से ग्रामीणों को मंहगे दामों पर रेण से पानी के टैंकर मंगवाने पड़ रहे हैं। सुरजाराम ऐचरा, चेनाराम, प्रभु राम, बुद्धाराम डारा,  कंवरीलाल,  प्रतापराम, भंवरलाल, बनवारीलाल, गणपतलाल, कालुराम, रुपाराम आदि ढ़ाणी वासियों का कहना है कि 1998 से बना पानी का जीएलआर बनने के बाद से ही बुरे हाल में पड़ा है। कईं बार जलदाय विभाग के अधिकारियों को सूचित करने के बाद भी साफ-सफाई व मरम्मत के अभाव में जीर्ण-शीर्ण होता जा रहा है।

किसी के कानों पर जूं नहीं रेंग रही

ग्रामीणों का कहना है कि सप्लाई शुरू नहीं की गई, तो गर्मी के दिनों में परेशानी और बढ़ जाएगी। ग्रामीणों का कहना है कि इस समस्या को लेकर जलदाय विभाग के अधिकारियों को कईं बार अवगत करवाया, लेकिन अभी तक समस्या का समाधान नहीं हुआ है। ग्रामीणों की मांग है कि अतिशीघ्र जीएलआर की मरम्मत करके पानी की सप्लाई सुचारू की जाए, ताकि ग्रामीणों को पानी की समस्या से राहत मिल सके।

शीघ्र ली जाएगी सुध

“पोलास विश्नोईयां ग्राम के ऐचरों की ढ़ाणी में 1998 से बने जीएलआर के मरम्मत का प्रस्ताव बनाकर भिजवा दिया जायेगा जल्द ही पेयजलापूर्ति सुचारू रूप से शुरू करवा दी जाएगी।”
राकेश बिश्नोई जलदाय विभाग जेईईएन बुटाटी।

kalamkala
Author: kalamkala

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

error: Content is protected !!

We use cookies to give you the best experience. Our Policy