Search
Close this search box.

Download App from

Follow us on

शादी में अटा-सटा को लेकर प्रताड़ना से पीड़िता युवती ने दी पुलिस को रिपोर्ट, देवर पर गलत हरकतें करने, पति पर शराब पीकर पीटने आदि आरोपों से सभी ससुराल को किया कठघरे में खड़ा

शादी में अटा-सटा को लेकर प्रताड़ना से पीड़िता युवती ने दी पुलिस को रिपोर्ट,

देवर पर गलत हरकतें करने, पति पर शराब पीकर पीटने आदि आरोपों से सभी ससुराल को किया कठघरे में खड़ा

लाडनूं (kalamkala.in)। पांच लाख रुपए नकद और मोटर साईकिल की मांग को लेकर उत्पीड़न, देवर ने गलत हरकतों से परेशान किया, अटा-सटा के कारण नणद को लेकर दबाव बनाया, सास ने खाने की थाली को ठोकर लगाई और मारपीट कर घर से निकाला, इस सब आरोपों को लेकर स्थानीय पुलिस ने एक मामला दर्ज किया है। मामले की जांच जारी है।

‘हमारी नाक कटवा दी, भिखारी की औलाद’

इस प्रकरण के अनुसार ललिता (26) पत्नी रामचन्द्र पुत्री चुनाराम जाट निवासी लुहारा (सुजानगढ), हाल निवासी लुकास (लाडनूं) ने अभियुक्तों पति रामचन्द्र पुत्र बंशीराम, श्वसुर बंशीराम, सास लिछमा पत्नी बंशीराम, देवर सीताराम पुत्र बंशीराम, नणद पुष्पा पुत्री बंशीराम व गीता पुत्री बंशीराम जाट निवासी ग्राम लुहारा के खिलाफ रिपोर्ट देकर बताया है कि उसकी शादी रामचन्द्र के साथ 20 मई 2013 को हुई थी। तब पीहर वालों ने हैसियत से बढ़कर सोने-चांदी के जेवरात, घरेलु सामान उपहार में दिए थे। ससुराल जाने पर पहली बार ही पीहर वालों को उपहार स्वरूप दिया सामान पसंद नहीं आया और कहा कि समाज में उनकी नाक कटवा दी। उन्होंने उसे ‘भिखारी की औलाद’ कहकर अपमानजनक शब्दों से पुकारा और कहा उनकी सारी उम्मीदारों पर पानी फेर दिया। उसका सारा सामान, स्त्रीधन व सोने-चांदी के जेवरात छीनकर पति व सास ने अपने पास रख लिए। पीहर आने पर उसने अपने माता-पिता को सारी स्थिति से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि समय के साथ सब ठीक हो जाएगा।

पांच लाख व मोटरसाइकिल को लेकर लगातार प्रताड़ना

शादी के एक साल बाद वह मुकलावा होने बाद फिर ससुराल गई तो पाया कि उसका पति रात को शराब पीकर घर आता और उसके साथ मारपीट करता। इसी तरह सास भी वह जब खाना खाने बैठती तो उसकी थाली को ठोकर मारती। उसका देवर सीताराम उसे गंदी नजरों से देखता रहता एवं उसके अकेली होने पर गलत हरकतें करता तथा गलत इरादे से पास से निकलते वक्त पीछे से उसके हिप्स पर मारी, जिसकी शिकायत अपने पति व सास-ससुर से की, वे देवर का ही साथ देते। सीताराम उसे धमकी देता कि जब कभी अकेली मिलोगी तो वह जबरन शारीरिक संबंध बना लेगा। पति को यह सब बताने पर भी उसे महत्व नहीं दिया गया। पति ने कहा, वो छोटा है, ऐसे ही मजाक कर रहा है। इसके अलावा सभी ससुराल वाले कहते, ‘तेरे बाप से 5 लाख रुपए और मोटर साईकिल लेकर आओ, तभी हम इस घर में रखेगें, नहीं तो ऐसे ही तंग परेशान करेगें।

भाई से नणद की तलाक लिखवाने के लिए भी टॉर्चर किया

उसके भाई राकेश का विवाह भी उसकी नणद पुष्पा के साथ हो रखा है। नणद पुष्पा उसके भाई राकेश से तलाक लेना चाहती है, जिसकी वजह से पति व सास-ससुर सभी उसको टोर्चर करते हैं और पिछले 6 माह से उसे जबरन तलाकनामा लिखाने के लिये दबाव बना रहे हैं। वह अपना घर बसाने के लिये भरसक प्रयास करती रही। सब तरह की मानसिक व शारीरिक पीड़ा-प्रताड़ना वह सहन करती रही। वर्ष 2018 में सभी मुलजिमानों ने एकराय होकर उसके साथ भंयकर मारपीट करके केवल पहने हुए कपड़ों में ही घर से निकाल दिया। तब जैसे-तैसे वह अपने पीहर आई एवं अपनी आपबीती घरवालों को बताई। तब पीहर वालों ने अभियुक्तों से समझाईश की, लेकिन उनके व्यवहार में कोई परिवर्तन नही आया। वह अपने ससुराल वालों को लेने आने का इंतजार करती रही, वे बिल्कुल ही नहीं आए और उसकी कोई सुध तक नहीं ली। इसके बाद गत 2 मई को उसके पीहर वालों ने गांव-समाज के मौजीज व्यक्यिों को इकट्ठा कर उन लोगों से समझाईश की, लेकिन वे अपनी मांगों पर अड़े रहे तथा उसे रखने से इन्कार हो गए। अपना स्त्रीधन मांगने पर उन्होंन स्त्रीधन व सोने-चांदी के जेवरात लौटाने से इन्कार कर दिया। पुलिस ने मामले को धारा 498ए, 406 आईपीसी में दर्ज किया है। मामले की जांच थानाधिकारी महीराम विश्नोई सीआई कर रहे हैं।

kalamkala
Author: kalamkala

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

error: Content is protected !!

We use cookies to give you the best experience. Our Policy